परबतसर (नागौर)। कांग्रेस एक के बाद एक बड़ी रैलियों के जरिए गौरव यात्रा का जवाब देने में जुटी हुई है। करौली के बाद अब नागौर के परबतसर में कांग्रेस के नेताओं ने किसानों के साथ मिलकर हुंकार भरी। इस महारैली को स्थानीय सुभाषचंद्र बोस स्टेडियम में कांग्रेस की पांचवी संभागीय संकल्प रैली के तौर पर रखा गया था।

इस अवसर पर बोलते हुए पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट ने विधानसभा चुनाव का मुकाबला बीजेपी-कांग्रेस के बीच नहीं होकर बीजेपी-किसान और बीजेपी-नौजवान के बीच बताया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हर एक वोट की कीमत है, नागौर की जनता जिस ओर मुड़ती है, प्रदेश की सरकार भी उसी की बनती है। लोगों की भीड़ व कार्यकर्ताओं के जोश को देखते हुए कहा कि आज वसुंधरा की नींद उड़ जाएगी। नींद तो जाएगी ही जाएगी, अब कुर्सी भी जाएगी।
वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने एकजुटता का पाठ पढ़ाया। गहलोत ने कहा कि पूर्व पीएम नेहरू ने पंचायती राज का नागौर से स्थापना कर गांव तक सत्ता को पहुंचाया, जबकि आज केवल मोदी-शाह सत्ता पर काबिज हैं, मंत्री तो बिचारे नाममात्र के हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here